पटना होकर 130 की रफ्तार से चलेगी ट्रैन, दिल्ली से पटना,हावड़ा के बीच होगी समय की बचत, कल होगा स्पीड ट्रायल

0
16039

पूर्व मध्य रेलवे ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने की तैयारी में लग गया है। लखीसराय किउल रेलखंड पर आरआरआई कार्य पूरा होने के बाद से ट्रेनों की रफ्तार बढ़ जाएगी। किउल ने नॉन इंटरलॉकिंग कार्य पूरा कर नए सिंग्नल सिस्टम को ट्रैक से जोड़ दिया गया है। हाल ही में लखीसराय-किऊल यार्ड रीमॉडलिंग कार्य के अंतर्गत किऊल में 304 रुट वाला नया इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम कमीशन किया गया। इसके लिये 60 वर्ष से अधिक पुराने यांत्रिक लीवर फ्रेम के बदलाव के साथ किऊल यार्ड में 150 वर्षों से अधिक पुराने गर्डर पुल के बदले नए पुल से रेल परिचालन हेतु बड़े पैमाने पर यार्ड रीमॉडलिंग कार्य सफलतापूर्वक संपन्न किया गया। फरवरी के महीने में दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन से झाझा तक 130 कि रफ्तार से स्पीड ट्रॉयल किया गया जो सफल रहा।

सोमवार को दीन दयाल उपाध्याय से झाझा तक किया जाएगा स्पीड ट्रायल

384 किमी लंबे दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन से पटना होते हुए झाझा तक दूसरा स्पीड ट्रायल किया जाएगा। आरआरआई कार्य पूर्ण होने के बाद यह ट्रायल किया जाएगा। इस रेलखंड पर 130 की रफ्तार से ट्रेनों को दौड़कर निरीक्षण किया जाएगा। अगर यह ट्रॉयल सफल रहा तो हावड़ा, पटना से दिल्ली जाने वाली ट्रेनों के समय में 2 से 3 घंटे की बचत होगी। रेलवे 1 जुलाई से नई समय सारिणी लागू कर रही है। उम्मीद जताई जा रही है कि नई समय सारिणी के लागू होते ही कई ट्रेनों की रफ्तार बढ़ जाएगी। सोमवार को अप लाइन पर झाझा से दीन दयाल उपाध्याय तक 130 कि रफ्तार से ट्रेन दौड़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here