87 साल बाद सहरसा से कोशी महासेतु के रास्ते निर्मली झंझारपुर होते हुए दरभंगा तक चली जीएम स्पेशल ट्रेन

0
4400
Saharsa nirmali

Saharsa nirmali : 87 वर्ष बाद कोशी महासेतु के रास्ते सहरसा से दरभंगा पहुंची रेल, जीएम ने सहरसा सरायगढ़ राघोपुर, झंझारपुर का निरीक्षण किया

Saharsa nirmali : शनिवार का दिन मिथिलांचल के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा। जब निर्मली अपने जिला मुख्यालय से 87 साल बाद रेल से जुड़ा। आजदी के बाद पहली बार कोशी महासेतु के रास्ते आसनपुर कुपहा से निर्मली झंझारपुर होते हुए दरभंगा तक नव निर्मित रेलखंड पर जीएम स्पेशल ट्रेन का परिचालन किया गया। सितंबर के महीने में प्रधानमंत्री ने कोशी नदी पर रेलब्रिज होते हुए सुपौल के रास्ते सरायगढ़ से आसनपुर कुपहा के बीच ट्रेन दौड़ाकर नदी द्वारा मिथिला के विभाजित खंड को एक किया। अब सहरसा से निर्मली झंझारपुर के रास्ते दरभंगा तक जल्द रेल शूरू होने वाला है जो यहां रहने वाले लोगों के लिए किसी सपने को सच होने जैसा है। पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ललित चंद त्रिवेदी, समस्तीपुर मंडल के डीआरएम अशोक माहेश्वरी ने मिथिला के दो भागों को जोड़ने वाली इस रेल लाइन से निरीक्षण किया। कोशी रेल महासेतु के रास्ते जीएम स्पेशल ट्रेन निर्मली पंहुचेगी, सरायगढ़ स्टेशन पर ढोल नगाड़ों के साथ ट्रेन का स्वागत किया गया। लोगों की भीड़ स्टेशनों पर सुबह से टिकी रही कि ट्रेन कब आएगी। निर्मली एवं घोघरडीहा स्टेशन पर लोगों की भारी भीड़ मौजूद रही, सभी लोगों ने रेलवे के अधिकारियों का अभिवादन किया। आजादी के बाद पहली बार सहरसा से निर्मली होते हुए घोघरडीहा झंझारपुर ट्रेन पहुंची।

अप्रैल महीने से सहरसा दरभंगा के बीच दौड़ेगी ट्रेन

सहरसा से आसनपुर कुपहा तक डेमू ट्रेन का परिचालन किया जा रहा है। आसनपुर कुपहा से आगे निर्मली तक आमान परिवर्तन कार्य पूरा कर स्पीड ट्रायल किया जा चुका है। शनिवार को जीएम स्पेशल ट्रेन सहरसा से सुपौल सरायगढ़ राघोपुर निर्मली झंझारपुर होते हए दरभंगा तक निरीक्षण कर रहे है। निरीक्षण के बाद मार्च के आखिरी हफ्ते तक इस रेलखंड पर सीआरएस निरीक्षण किया जाएगा। सब ठीक रहा तो अप्रैल के महीने से सहरसा दरभंगा के बीच आजदी के बाद पहली बार ट्रेन सेवा लोगों के लिए शुरू कर दी जाएगी।

महिलाओं ने संभाली ट्रेन की कमान

भारतीय रेल में पहली बार आज महिला लोको पायलट संयुक्ता कुमारी, सहायक लोको पायलट मिनाक्षी सुंडी एवं गार्ड दीपा कुमारी की टीम द्वारा महाप्रबंधक स्पेशल का संचालन किया जा रहा है। इस स्पेशल ट्रेन के सुरक्षा की जिम्मेवारी भी महिला RPF कर्मियों द्वारा संभाली गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here