स्पेशल ट्रेनों के परिचालन की संभावना को लेकर सहरसा डीएम,एसपी एवं अन्य अधिकारियों ने किया सहरसा जंक्शन का दौरा

0
2051

लॉक डाउन के बीच राज्य सरकार के आग्रह पर देश भर में श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही है। प्रवासियों, मजदूरों एवं छात्रों को लाने के लिए विशेष ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। बड़ी संख्या में प्रवासी बिहार के बाहर अन्य प्रदेशों में रोजगार करते है इसके अलावे कोटा समेत अन्य महानगरों में छात्र पढ़ाई करते है कोरोना के इस वैश्विक महामारी के कारण अपने राज्य लौटना चाहते है। ऐसे में राज्य सरकार के आग्रह पर जयपुर, कोटा, दक्षिण भारत से बिहार के लिए ट्रेनें चलाई गई है एवं आने वाले समय में देश के अन्य हिस्सों से बिहार के लिए ट्रेनें चलाई जाएंगी। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि सहरसा के लिए भी स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी। कोसी इलाके के जिसमें सहरसा, सुपौल, मधेपुरा समेत सीमांचल के बड़ी संख्या में मजदूर पंजाब समेत देश के अन्य हिस्सों में फसें है, उनके लिए अगर विशेष ट्रेन सहरसा के लिए चलती है तो तैयारियों का जायजा लेने सहरसा के जिलाधिकारी, सहरसा एसपी, एवं अन्य अधिकारियों ने सहरसा स्टेशन का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने कहा कि प्लेटफार्म संख्या एक की बेरिगडिंग रस्सी के सहारे की जाएगी। इसके अलावे यात्रियों के ट्रेन से उतरने के दौरान सोशल डिस्टनसिंग का ख्याल रखना होगा। इसके लिए एक एक मीटर की दूरी पर लाल घेरा बनाया जाएगा। प्रत्येक यात्रियों को ट्रेन से उतरने के बाद लाल घेरे के अंदर से प्रत्येक यात्रियों से एक एक मीटर की दूरी बनाते हुए चलकर ही प्लेफॉर्म से बाहर आना होगा। प्लेटफार्म से बाहर आने के बाद यात्रियों को बस के माध्यम से सहरसा स्टेडियम ले जाया जाएगा, वहां उन्हें भोजन कराकर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग कराई जाएगी एवं रेजिस्ट्रेशन कराकर सभी को अपने अपने प्रखंडों में बने क्वारंटाइन सेंटर भेजा जाएगा। सहरसा जंक्शन पर ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि कोई भी यात्री ट्रेन से उतरकर इधर उधर नही जा सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here