गंडक बराज से छोड़ा गया 4 लाख क्यूसेक पानी,बाढ़ से निपटने के लिए मुख्यमंत्री ने जारी किया हाई अलर्ट

0
1604

गोपालगंज। वाल्मीकि नगर बराज से नेपाल से 4 लाख 8 हजार क्यूसेक पानी मंगलवार को सुबह 6 बजे छोड़ा गया है पानी शाम तक गोपालगंज जिले के कई इलाको में मचा सकता तवाही ,प्रशासन ने हाई एलर्ट किया।मुख्यमंत्री ने नेपाल एवं गंडक नदी के जलग्रहण क्षेत्रों में भारी बारिश के मद्देनजर आपदा प्रबंधन विभाग को पूरी तरह तैयार रहने का दिया निर्देश दिया है। गंडक नदी के किनारे निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को वहां से हटाकर ऊॅचे एवं सुरक्षित स्थानों पर पंहुचाने के आदेश दिए है एवं लोगों के लिए समुचित व्यवस्था करने के आदेश दिए हैं। विभाग अपने सभी अभियंताओं को तटबंध स्थलों पर पूरी तरह अलर्ट रखें ताकि तटबंधों की पूर्ण सुरक्षा की जा सके। एनडीआरएफ एवं एसडीआरएफ की टीमों को भी पूरी तरह अलर्ट मोड में रखा जाय ताकि किसी भी प्रतिकूल स्थिति में त्वरित कार्रवाई की जा सके।

राहत केन्द्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें।

सोमवार को- नेपाल एवं गंडक नदी के जलग्रहण क्षेत्र में हो रही भारी वर्षापात के कारण गंडक नदी के जलश्राव (डिस्चार्ज) एवं नदी के जलस्तर में काफी वृद्धि होने की संभावना है। भारी वर्षापात के कारण पश्चिम चम्पारण, पूर्वी चम्पारण, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, वैशाली एवं सारण जिले में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। निष्क्रमित आबादी वाले क्षेत्रों में अगर कोई कंटेनमेंट जोन चिन्हित हो तो उनके लिये अलग आपदा राहत केन्द्र बनाकर उन्हें सहायता पहुॅचायी जाय। ऐसे लोगों को सामान्य बाढ़ पीड़ितों से पृथक रखने की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाय कि राहत केन्द्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here