बिना मेल के दौर रही पूर्णिया-कोर्ट, मधेपुरा की ट्रेनें,वैशाली,गरीब रथ, जनहित का मेल सहित ट्रेनें चलाने की मांग

0
1359

सहरसा से पूर्णिया कोर्ट के बीच बड़ी लाइन शुरू होने के बाद लोगों की ट्रेन की कमी होने से कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पूर्णिया कोर्ट, बनमनखी और मधेपुरा के यात्रियों को बस या सड़क मार्ग से सहरसा आकर ट्रेन पकड़ना पड़ता है जो काफी कष्टदायक है। सड़के खराब रहने के कारण पूर्णिया से सहरसा का सफर 5 से 6 घंटे में तय होता है। वही मधेपुरा से सहरसा आने में डेढ़ से दो घंटे। कई रेल यात्रियों की मांग है कि 1 जुलाई से नई समय सारिणी आती है तो एक नई डेमू जो 14:30 बजे सहरसा से खुले इंटरसिटी व जनहित के मेल लेके फिर वापिस 6 बजे शाम में पूर्णिया कोर्ट से खुले, जिससे शाम में ऑफिस ,कॉलेज व मरीजों को राहत मिलेगी, ट्रेन होने से वे बनमनखी, मधेपुरा से सहरसा लौट आएंगे और यात्रियों को रात में जनहित का मेल भी मिल जाएगा। इससे पहले पहले शाम में एक 55554 समस्तीपुर से आकर सहरसा से शाम में 7 बजे खुलती थी वापिस 55553 सुबह 6:45 बजे सहरसा पहुँचकर राज्यरानी की मेल देती थीं फिर से इसे चालू कर दिया जाए। यदि ट्रेन संख्या 55553 के समय मे थोड़ा बदलाव किया जाए और सुबह 6 बजे सहरसा पहुंचे और 55554 ट्रेन को 9 बजे के बाद चलाया जाए ताकि वैशाली एक्सप्रेस का मेल मिल जाए तो यात्रियों को राहत होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here