सहरसा में दूसरे वाशिंग पिट का निर्माण कार्य शुरू, 15 महीने में पूरा होगा कार्य

1
4012
Saharsa washing pit

सहरसा में रेलवे द्वारा दूसरे वाशिंग पिट का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया था। सहरसा रेलवे स्टेशन के विस्तार और भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए महत्वपूर्ण परियोजनाओं में से एक है। सहरसा जंक्शन से कई लंबी दूरी की ट्रेनों का परिचालन किया जाता है। एक वाशिंग पिट रहने से ट्रेनों कि साफ सफाई से लेकर मेंटेनेंस का अधिक दबाव है, सहरसा स्टेशन के सर्वा ढाला के निकट दूसरे वाशिंग पिट के निर्माण होने के बाद से ट्रेनों कि साफ सफाई के साथ नई ट्रेनों के परिचालन की संभावना भी बढ़ जाएगी।

पुणे की कंपनी बनाएगी सहरसा में दूसरा पिट लाइन

ई निविदा द्वारा पुणे की श्री क्रेनेक्स कंस्ट्रक्शन कंपनी को अत्याधुनिक तरीके से केमटेक डिजाइन से दूसरे पिट लाइन का निर्माण के लिए चयन किया गया है। पुणे की कंपनी वाशिंग पिट के साथ पिट लाइन के साथ ड्रेनेज सिस्टम, विद्युतीकरण, लाइटिंग, सड़क निर्माण एवं दूसरे सिविल कार्य जिसमें भवन और ट्रैक नर्मिाण कार्य भी किया जाएगा। सबसे पहले वाशिंग पिट तक पहुंचने के लिए सड़क निर्माण की शुरुवात कर दी गई है ताकि पिट लाइन तक आने जाने में कोई परेशानी न हो। अभी सड़क बनाने के लिए मिट्टी भराई का कार्य शुरू कर दिया गया है।

15 महीने में पूरा होगा निर्माण कार्य

पूर्व मध्य रेलवे द्वारा पहली बार सहरसा में बन रहे दूसरे वाशिंग पिट के लिए एक निजी कंसल्टेंसी को हायर करेगी जो कि काम कि गुणवत्ता का देख रेख करेगी। कंसल्टेंसी वाशिंग पिट के अलावा दूसरे सिविल कार्य एवं सड़क निर्माण की गुणवत्ता की निगरानी करेगी जिसके लिए ई निविदा द्वारा टेंडर निकाला गया है।
सहरसा में अत्याधुनिक तरीके से बन रहे वाशिंग पिट में 24 कोचों की साफ सफाई हो सकेगी। पिट लाइन बनने कि समय सीमा 15 महीने निर्धारित की गई है।

लंबी दूरी की ट्रेनों के परिचालन का रास्ता होगा साफ।

सहरसा रेलवे स्टेशन स्थित पांच प्लेटफॉर्म है इसके साथ ही सहरसा फारबिसगंज, सहरसा दरभंगा रेल परिचालन भी अगले साल शुरू हो जाएगा, जिससे स्टेशन पर ट्रेनों के साफ सफाई सहित मेंटेनेंस का लोड बढ़ेगा। उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले समय में कुछ ट्रेनों का विस्तार सुपौल, दरभंगा या पूर्णिया तरफ किया जा सकेगा। जिससे सहरसा से गुवाहाटी, टाटा और दक्षिण भारत की ट्रेनों के परिचालन का रास्ता साफ हो सकेगा। सहरसा स्टेशन पर होल्डिंग और स्टेबलिंग लाइन का निर्माण किया जाएगा, जिससे ट्रेनों के रख रखाव में मदद मिलेगी। जगह की कमी के कारण कई ट्रेनों का परिचालन नहीं हो पा रहा, वाशिंग पिट के निर्माण से बहुत हद तक समस्या दूर हो जाएगी।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here