महेशखूंट से सहरसा होते हुए पूर्णिया तक एनएच 107 के निर्माण में लगेगा एक साल, 2115 करोड़ राशि स्वीकृत

0
4730

सहरसा से पूर्णिया तरफ जाने वाली सड़क की हालत इतनी खराब है कि अगर मुरलीगंज होते हुए पूर्णिया का सफर आपने किया तो कमर दर्द और थकान होना तय है। धूल उड़ती सड़क पर यात्रा करना मुश्किल है। वैसे अब जाकर कहीं कहीं राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण में तेजी आयी है। सहरसा से बैजनाथपुर होते हुए मधेपुरा तक सड़क निर्माण किया जा रहा है तो वहीं पूर्णिया से मधेपुरा तक अलग एजेंसी सड़क का निर्माण कर रही है। इसके अलावा मानसी के महेशखूंट से सिमरी बख्तियारपुर होते हुए बैजनाथपुर तक सड़क निर्माण कार्य भी चल रहा है। राज्यसभा में सांसद सुशील मोदी द्वारा सड़क निर्माण के विषय में पूछे गए सवाल पर सड़क एवं परिवहन मंत्रालय भारत सरकार ने कहा की NH-107 पूर्णिया-सहरसा-महेशखूँट की लागत राशि बढ़कर 2115 करोड़ हुई है और इसके पूरा होने में अभी एक साल और लगेगा। 2017 से सड़क का निर्माण कार्य चल रहा है बीते 4 साल में भी इस परियोजना के पूरे नहीं होने से लोगों में निराशा है। कई बार निर्माण में हो रही देरी से लोगों ने आंदोलन भी किया है।

महेश्खुंट से सहरसा होते हुए मधेपुरा तक 90 किमी का निर्माण

पकैज एक के तहत महेशखुंट से चौथम, सोनवर्षा राज, सिमरी बख्तियारपुर, सहरसा, बैजनाथपुर और मधेपुरा तक 90 किमी सड़क का निर्माण 949.26 करोड़ की राशि से किया जा रहा है, जिसमें अभी तक सिर्फ 152.17 करोड़ की राशि खर्च हुई है। इस राष्ट्रीय राजमार्ग के बनने की आखिरी तिथि दिसंबर 2022 तय की गई है।

मधेपुरा से मुरलीगंज होते हुए पूर्णिया तक 87.96 किमी हो रहा निर्माण

पैकेज 2 के तहत मधेपुरा से मुरलीगंज, जानकी नगर, बनमनखी, सरसी होते हुए मरंगा (पूर्णिया) तक 87.96 किमी सड़क का निर्माण 1165.97 करोड़ की राशि से किया जा रहा है, जिसमें अभी तक सिर्फ 156.47 करोड़ की राशि खर्च हुई है। इस राष्ट्रीय राजमार्ग के बनने की आखिरी तिथि अक्टूबर 2022 तय की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here