पटना राजधानी के वाराणसी डायवर्ट पर पूर्व मध्य रेलवे ने जताई आपत्ति,नई ट्रेन चलाने का दिया सुझाव

0
7301
पटना राजधानी एक्सप्रेस बनारस जाएगी

पटना राजधानी एक्सप्रेस के वाराणसी डायवर्ट पर पूर्व मध्य रेलवे ने अनुचित बताया, कहा कि बिहार की सबसे प्रतिष्ठित ट्रेन के डायवर्ट करने पर यात्रियों का झेलना पड़ सकता है विरोध,इसके बदले नई ट्रेन चलाने का दिया सुझाव

पटना राजधानी एक्सप्रेस के वाराणसी जंक्शन होकर दिल्ली जाने की खबर से पटना सहित पूरे बिहार के लोगों ने  नाराजगी प्रकट की है। इसके साथ ही पूर्व मध्य रेलवे भी राजधानी एक्सप्रेस के बनारस होकर डायवर्ट होकर चलाने के पक्ष में नहीं है। रेल ट्रैकर ने राजधानी एक्सप्रेस के हमेशा के लिए बनारस होकर चलाए जाने की समय सारिणी भी जारी कर दी थी।

पटना से यह होगा संशोधित समय जारी।

ट्रेन संख्या 12309/10 राजधानी एक्सप्रेस राजेन्द्र नगर से शाम 5:30 बजे खुलेगी, पटना 5:45 में पहुंचकर 5:55 में रवाना होगी। वापसी में पटना सुबह 6:10 में पहुंचेगी और 10 मिनट रुकने के बाद 6:20 में खुलेगी और राजेन्द्र नगर 6:45 में पहुंचेगी।

Related Article : पटना नईदिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का बदलेगा रूट!! बनारस होकर चलेगी ट्रेन

राजधानी के समय में बदलाव यात्रियों के साथ अन्याय होगा।

पूर्व मध्य रेलवे के तरफ से भी जवाब रेल ट्रैकर द्वारा जारी किया गया है। जिसमें पटना राजधानी एक्सप्रेस जैसी प्रीमियम ट्रेन के बनारस होकर चलाना यात्रियों के  हित में नहीं बताया। जवाब में पूर्व मध्य रेलवे द्वारा कहा गया है कि पटना नईदिल्ली राजधानी एक्सप्रेस बिहार कि सबसे प्रतिष्ठित ट्रेनों में से एक है जिसमें मंत्री, सांसद से लेकर कई वीवीआईपी लोग यात्रा करते है। सभी के सुझावों के अनुसार ही राजेन्द्र नगर और पटना में राजधानी एक्सप्रेस की समय सारिणी निर्धारित की गई है। अगर ट्रेन को अपने निर्धारित समय से पहले शाम 5:30 बजे खोला जाता है तो यात्रियों के साथ साथ इसमें सफर करने वाले अधिकांश वीवीआईपी लोगो को असुविधा होगी। पटना राजधानी के समय में बदलाव करने पर यात्रियों का आक्रोश झेलना पड़ सकता है।

कई ट्रेनों का मार्ग बदलना पड़ेगा, घटेगी औसत गति।

पूर्व मध्य रेलवे ने साफ किया कि अगर राजधानी एक्सप्रेस वाराणसी जंक्शन होकर जाती है तो कई ट्रेनों के समय और मार्ग को बदलना पड़ेगा जिसमें पटना वाराणसी इंटरसिटी एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस, दानापुर सिकंदराबाद एक्सप्रेस, श्रमजीवी एक्सप्रेस जैसी महत्वपूर्ण ट्रेनें शामिल है। राजधानी एक्सप्रेस को डायवर्ट रूट चलाने से राजधानी एक्सप्रेस की औसत गति 82 से घटकर 70 तक हो जाएगी।

boat earphone click to this link to buy at cheap price

रिपोर्ट में पटना राजधानी के वाराणसी डायवर्ट के बदले नई ट्रेन चलाने का दिया गया सुझाव

रिपोर्ट में कहा गया है कि हावड़ा/सियालदाह राजधानी एक्सप्रेस को वाराणसी जंक्शन होकर डायवर्ट किया जाए जिससे दोनों शहर आपस में जुड़ेंगे नहीं तो गति शक्ति, तेजस जैसी नई ट्रेन चलाई जाए, पटना और बनारस के बीच कई ट्रेनें है और सड़क संपर्क भी अच्छा है, पटना राजधानी को डायवर्ट करना सही निर्णय नहीं होगा।

आखिर पटना राजधानी के डायवर्ट करने की क्या हो सकती है वजह

अगर बिहार यूपी की बात की जाए तो यहां सांसद हो या मंत्री या सरकार में विधायक सभी को अपने शहर होकर राजधानी एक्सप्रेस चाहिए और किसी भी छोटे स्टेशन पर राजधानी की स्टॉपेज को लेकर रेलमंत्री को पत्र लिख दिया जाता है। ऐसे में रेलवे बोर्ड के पास भी इन सभी की मांगों को पूरा करने का दबाव रहता है। जब देश में वंदे भारत जैसी ट्रेनें चल रही है ऐसे में राजधानी एक्सप्रेस जो किसी भी राज्य की शान होती है स्टॉपेज और डाइवर्जन या विस्तार की मांग कर इस प्रीमियम ट्रेन की प्रतिष्ठा खराब हो रही है जिसका खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ता है।

बिहार में सोशल मीडिया पर यात्रियों ने ट्रेन डायवर्ट का विरोध करना शुरू किया

बिहार की सबसे प्रीमियम ट्रेन पटना राजधानी एक्सप्रेस जो यात्रियों की शान है। कई मायनों में पटना राजधानी यात्रियों को पसंद इसलिए भी है कि 7 बजे चलकर सुबह सुबह नईदिल्ली पहुंचना सुखद होता है। लेकिन राजधानी जैसी प्रीमियम ट्रेन को डायवर्ट करना कहीं से भी ठीक नहीं होगा। अगर ऐसा होता है तो यात्रियों के साथ अन्याय होगा, ऐसी की कुछ बाते सोशल मीडिया से लेकर ट्विटर पर कई यात्री ट्रेन के डाइवर्जन पर अपनी नाराजगी व्यक्त कर चुके है।

पटना राजधानी एक्सप्रेस बनारस जाएगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here