बिहार में हो रहा है देश के सबसे लंबे पुल का निर्माण, 2023 तक पूर्ण करने का लक्ष्य

0
1528
Mansi saharsa road
File photo

भारत माला प्रोजेक्ट के तहत सहरसा स्थित तारा स्थान से मधुबनी स्थित उच्चैठ भगवती स्थान को जोड़ा जाएगा। सहरसा से मधुबनी को जोड़ने के लिए सुपौल के बकौर से मधुबनी के भेजा के बीच देश का सबसे लंबा पुल बनाया जा रहा है। 10.2 किमी लंबे इस पुल में 171 पिलर का निर्माण किया जाएगा जिसमे 113 पुल का निर्माण कार्य तेजी से किया जा रहा है। अभी तक पांच पिलर का निर्माण कार्य पूरा कर लिए गया है, बाकी पिलर का निर्माण कार्य भी तेजी से किया जा रहा है। 2023 तक इस ब्रिज का निर्माण कार्य का लक्ष्य रखा गया है।

सहरसा मधुबनी में पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

करीब 1345 करोड़ की लागत से नेशनल हाईवे 527 ए में सुपौल के बकौर से मधुबनी के भेजा के बीच 13.3 किमी टू लेन पुल का निर्माण किया जाएगा। NHAI ने पुल निर्माण की स्वीकृति पिछड़ा व पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दिया था। इस पुल का निर्माण कोशी महासेतु के दक्षिण में लगभग 20 किलोमीटर दूरी पर किया जा रहा है। भूमि कुल 171 पिलर का निर्माण किया जाएगा। यह पुल मधुबनी से मधुबनी चौक होते हुए मधेपुर,भेजा,बकौर कोसी घाट होते हुए सीधे परसरमा चौक पर मिलेगी उसके बाद फिर परसरमा चौक से बनगांव,बरियाही होते सहरसा तक सड़क का निर्माण किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here