सुशांत सिंह केस के मामले में मुम्बई पहुंचे विनय तिवारी सिटी एसपी को जबरन किया गया क्वारंटाइन, मचा हड़कंप

0
1076

महारष्ट्र पुलिस हो या वहां की सरकार सुशांत सिंह मामले की जांच में अड़ंगा लगा रही है। इससे पहले मुंबई में पटना से पहुंची जांच टीम को सहयोग नही किया जा रहा था। बिहार पुलिस ने पिछले पांच दिनों में जिस तत्परता से जांच कर रही है इससे वहां की पुलिस और सरकार को ये रास नही आ रहा। मुम्बई पुलिस ने जबरन पहले बिहार पुलिस को गिरफ्तार कर लिया था, बहुत हंगामा मचने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया। पटना में सुशांत सिंह के पिता द्वारा दर्ज एफआईआर के बाद मुम्बई पहुचीं पटना पुलिस को न तो सुशांत सिंह की पोस्ट मार्टम रिपोर्ट दी गयी और न ही कोई अन्य जानकारी मुहैय्या कराई जा रही है। जिससे मुम्बई पुलिस पर इस मामले में लीपापोती का आरोप लग रहा है।रविवार को मुम्बई पहुंचे पटना सिटी एसपी विनय तिवारी को मुम्बई BMC ने जबरन उन्हें 15 दिन के लिए होम क्वारंटाइन पर भेज दिया है। रविवार को मुम्बई पहुचने के बाद बिहार से गयी टीम के साथ मीटिंग भी की थी। करीब रात 11 बजे मुम्बई नगर पालिका की टीम पहुंची और विनय तिवारी के हाथ पर जबरन 15 अगस्त तक क्वारंटाइन रहने का मोहर लगा दिया। विनय तिवारी को कोई सुविधा नही दी जा रही। उन्हें रहने की सुविधा एक आईपीएस अधिकारी के हिसाब से नहीं दी गई न ही उन्हें मेस का खाना खाने की इजाजत दी गई। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्विटर पर जानकारी देते हुए नाराजगी जताई और कहा कि ये हैं बिहार cadre के IPS अधिकारी विनय तिवारी जिनको मुंबई में आज रात में 11 बजे रात में ज़बरदस्ती क्वोरंटीन कर दिया गया.SSR केस में जाँच करनेवाली टीम का नेतृत्व करने गए थे.अब ये यहाँ से कहीं निकल नहीं सकते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here